यह अफवाह जरूर किसी

कौन कहता है दोस्त कि तुमसे हमारी जुदाई होगी

यह अफवाह जरूर किसी दुश्मन ने उड़ायी होगी

शान से रहेंगे तुम्हारे दिल में हम

इतने दिनों में कुछ तो जगह बनायी होगी

This post has been viewed 1,386 times

कांच के टुकडों पे

कांच के टुकडों पे चला नहीं करते
दिल की बात हर एक को कहा नहीं करते
आशिक भी जलते है हमारी दोस्ती देखकर
क्युंकि हम जैसे दोस्त हर एक को मिला नहीं करते

This post has been viewed 1,051 times