याद आती है

काले बादल से ढके रात के सन्नाटे में
आँखें भरी भरी हो जाती है
वो दिन………
कभी रजामन्दी हुआ करती थी
पूर्ब से आई पहली रोशनी का वो उजालाथा
by- विजया शर्मा

This post has been viewed 327 times

Chahat चाहत

चाहत हंसाती रुलाती है
वो तो जीने कि ज़रिया है
अगर चाहत न हो तो जिन्दगी नहीं
जिन्दगी न हो तो कुछ भी नहीं।

chahat hansati rulati hai
o to jine ki jariya hai
agar chahat na ho to jindagi nahin
jindagi na ho to kuch bhi nahin.
by-VijayaSharma

This post has been viewed 2,667 times

पहाडो़ं को चढ़ते चढ़ते…………

ईश्क का मुक़ाम मिला नहीं पहुँचने कि कोशिशें में
हरेक मंज़र बीत गए इन पहाडो़ं को चढ़ते चढ़ते.. ……

isk ka mukam mila nahi pahuchane ki koshishe me
harek manjer biit gaye in pahado ko chadte chadte
by-Vijaya sharma

This post has been viewed 2,672 times

भूल न जाना

मुझे कोई एतराज़ नहीं कहीं भी तुम चले जाना
बस इतनी सी बात है वफा का वादा भुल न जाना

mughe koe atraj nahi kahi bhi tum chale jana
bas itni si baat hai bafa ka wada bhul na jana.
by -Vijaya Sharma

This post has been viewed 3,003 times

काफ़िर हो गए थे

फुटपाथ में बिक्री करने बाले बन्डल उठाए चल पडे़
हम तो इतने सस्ते हो गए बन्डल भी बन न पाए
रात के अँधेरें में उस बेवफ़ा के लिए तड़पे
काफ़िर हो गए थे उसी को खुदा समझ बैठे।

futapath me bikri karne baale vandal uthaye
Chal pade
hum to itne saste ho gaye bandal bhi ban na
paye
raat ke aandhere me us bevafa ke liye tadpe
kafir ho gaye the usi ko khuda samagh baithe

by-Vijaya Sharma

This post has been viewed 1,926 times

पलकों में समन्दर बिठाए

वफा सँजोए वरस बीत चला हो न सकि मुलाक़ातें
पलकों में समन्दर बिठाए मिलने को तरसते हैं।

vapha sanjoye baras bit chala
ho na saki mulakate
palako me samander bithaye
milne ko taraste hai.

by-Vijaya Sharma

This post has been viewed 1,801 times

आँखें बिछा दिए थे

उसने कहा था……..
आँखों में समन्दर को छलकने न देना
तुमसे मिलने को आएँगे, वो वक्त आया नहीं
हमने तो राह में आँखें बिछा दिए थे।

usne kaha tha…..
aankho me samandar ko chalakne na dena
tumse milne ko aayenge ,o bakta aaya nahi
hamne to raaha me aankhe bicha diye the.

by-Vijaya Sharma

This post has been viewed 1,683 times

नेपाली शायरी

त्यो केटी संग छुरी छैन,हेराई नै धारिलो
केही भन्छु भन्दा भन्दै मुटु नै घायल भयो।

tyo keti sanga churi chaena ,heraee nai dharilo
kehi bhanchu bhanda bhandai mutu nai ghayal
bhayo.

translation from hindi shayari myself
by-Vijaya Sharma

This post has been viewed 1,148 times