खामोश है हम उनकी खुशी के लिए

दरि़या वफाओ का कभी रूकता नही
महोबबत मे इनसान कभी झुकता नही
खामोश है हम उनकी खुशी के लिए
वो समझते है कि दिल हमारा दुखता ही नही

This post has been viewed 8,618 times